Showing posts with label sad shayari two lines. Show all posts
Showing posts with label sad shayari two lines. Show all posts

Friday, 1 September 2017

September 01, 2017

sad shayari

मुझे  ख़ुशी ना सही आपके गम की कहानी दे देते ,
    जिसे में भूल ना पाव वो निशानी तो दे देते !


किसी की याद में दिल आज भी है ,
वो तो भूल गए मगर हमे प्यार आज भी है। 
  हम खुश रहने  की कोशिश करते है मगर,
  आखो से आंसू आज भी जलक जाते है। 



इस महोब्बत की किताब में ,
दो ही सबक याद हुए ,
कुछ तुम जैसे आबाद हुए ,
और कुछ हम्म जैसे बर्बाद हुए। 



तेरी आखो में सचाई की एक रह नजर आती है ,
तू महोब्बत का दीवाना है ऐसी चाह नजर आती है,
माना की ठोकर खगे है ज़माने से बेवफाओं की ,
पर तू आशिक है महोब्बत की चाह नजर। 



 तेरे शहर में आकर बेनाम से हो गए है हम ,
तेरी चाहत में अपनी मुस्कान को खो बैठे है ,
जो डूबे है तेरी महोबत  में ऐसे ,
हम तेरुई आस्की के गुलाम हो गए है। 





Wednesday, 30 August 2017

August 30, 2017

sad shayari

एक चाहत थी... तेरे साथ जीने की ,
                    वरना 
महोब्बत तो  किसी से हो शक्ति थी। 



कोशिश हजारो की तुजे रोकने की ,
ठहरी  हुई घडी में भी ये वक़्त नहीं ठहरा। 



मुझको छोड़ने की वजह तो बता देते ,
 मुझसे नाराज थे  या मुज जैसे हजारो  थे। 



शायरी एक खेल है सतरंज  का ,
जिसमे लफज़ो के मोहरे मात दिया करते है एहसासो को। 


कागज़ के बेजान परिंदे भी उड़ते है ,
जनाब हाथ में डोर होनी चाइए बस।




Monday, 14 August 2017

August 14, 2017

shayari

Lag ja gale se phir yae,
haseen raat pata nahi kab hogi..
shayad phir se hmra tumhra milna ho ya na ho...



maine to hmesa mhobat ki thi aapse,
tere na manne se hakikat badal nahi jae gii...




kabhi kisi ke jajbato ko majak mat bannana,
naa jane kesa dard ko lekar jita hoga wo...



aajad kar dege tuje aapni chahat ki ked se hum,
                             magar
wo saks to lekar aao jo humse jada kadar kre aapki...




wo bolti hai mhobat ka samunder bhuth ghera hota hai,
  humne bhi kah dia hum dubane se darte nahi hai 
                                    J@@n